Home सॉफ्टवेयर MS Word क्या है? संपूर्ण जानकारी – हिंदी मे पढ़े

MS Word क्या है? संपूर्ण जानकारी – हिंदी मे पढ़े

0
58
ms word in hindi computersikhe.in
MS Word in Hindi

“MS Word (Microsoft Word)” जिसे Word भी कहा जाता है माइक्रोसॉफ्ट का एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जिसे डॉक्यूमेंटेशन के लिए दुनियाभर में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है।

इस पोस्ट में हम इस सॉफ्टवेयर के बारे में कुछ जरुरी जानकारी पढेंगे।

MS Word क्या है?

‘माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस’ एक ऐसा सॉफ्टवेयर पैकेज है जिसे माइक्रोसॉफ्ट ने सभी अधिकारिक उपयोगों के लिए बनाया है।

इस पैकेज में अधिकारिक उपयोग के लिए जरुरी सभी सॉफ्टवेयर है, जिनमे से एक MS Word भी है।

इस सॉफ्टवेयर को माइक्रोसॉफ्ट ने १९८३ में मार्किट में लाया था

इसके बाद इस सॉफ्टवेयर के काफी अपडेट आए जिनके साथ सॉफ्टवेयर और अच्छा होता गया।

यह सॉफ्टवेयर एक वर्ड प्रोसेसर है जो आपको किसी भी हाई लेवल डॉक्यूमेंट (ऐसे डाक्यूमेंट्स जिनमे शब्दों के साथ फोटो, ग्राफ, पाई चार्ट, इत्यादि इस्तेमाल होता है) को बनाने में मदद करता है।

MS Word का इतिहास

माइक्रोसॉफ्ट कंपनी ने इस सॉफ्टवेयर को बनाने का काम १९८१ में ही शुरू कर दिया था।

जिस के लिए माइक्रोसॉफ्ट ने चार्ल्स सिमोन्यी (Charles Simonyi) को एप्लीकेशन डेवलपर के तौर पर चुना था।

चार्ल्स सिमोन्यी ये माइक्रोसॉफ्ट एप्लीकेशन ग्रुप के लीडर थे जिन्होंने ‘माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस’ के शुरुवाती संस्करणों (Versions) पे काम किया था।

शुरुवाती दिनों में MS Word आज के मुकाबले काफी अलग दीखता था और उसमे आज के मुकाबले काफ कम विशेषताए थी।

पर वक़्त के साथ-साथ इसमें काफी बदलाव हुए और यह सॉफ्टवेयर और अच्छा होता गया।

१९८५ में माइक्रोसॉफ्ट ने इस सॉफ्टवेयर में काफी बदलाव किये जिसके बाद यह सॉफ्टवेयर विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ-साथ एप्पल के MAC ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए भी लौंच हुआ।

इसके बाद माइक्रोसॉफ्ट ने १९८७ में इसका और एक नया संस्करण (Version) मार्किट में लय जो रिच टेक्स्ट फॉर्मेट (RTF) को सपोर्ट करता था।

MS Word के फायदे।

  • यह सॉफ्टवेयर इस्तेमाल करने में काफी आसान है। इसमें आप अपने डॉक्यूमेंट को जैसा बनाते है और वो जैसा दीखता है वाही आपको प्रिंट में मिलता है।
  • इस सॉफ्टवेयर की सहायता से आप किसी भी डॉक्यूमेंट को बना सकते है, इसमें बने किसी भी डॉक्यूमेंट को खोल सकते है, उसमे बदलाव कर सकते है, उसे किसी को भेज सकते है और उसे प्रिंट भी कर सकते है।
  • इसमें लिखते समय यह सॉफ्टवेयर आपके शब्दों की स्पेल्लिंग अपने आप चेक करता है, जिससे आपको डॉक्यूमेंट बनाने में काफी मदत मिलती है।
  • इसमें और भी विशेषताए है जैसे की किसी भी टेक्स्ट का साइज़ कम या ज्यादा करना, उसे बोल्ड, इटालिक, अंडरलाइन, इत्यादि करना शामिल है।
  • इसे इस्तेमाल कर के आप अपने डॉक्यूमेंट में फोटोज, चार्ट्स, पैराग्राफ्स, इत्यादि इस्तेमाल कर के अपने डॉक्यूमेंट को दिखने में अच्छा बना सकते है।

 यह भी पढ़े:

MS Word कहा से ले?

यह सॉफ्टवेयर ‘माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस सूट’ में उपलब्ध सभी माइक्रोसॉफ्ट के सोफ्त्वारेस के साथ आपको मिलेगा।

वैसे तो यह खरीदना पड़ता है पर काफी वेबसाइट्स इसका फ्री वर्जन भी दे रही है।

अगर आप इस सॉफ्टवेयर को माइक्रोसॉफ्ट के ऑफिसियल वेबसाइट से खरीदना चाहते है या इसका फ्री ट्रायल लेना चाहते है तो यहाँ क्लीक करे।

अगर आप इसे डाउनलोड करना या खरीदना नहीं चाहते तो आप इसे काफी कम दाम में किसी नजदीकी कंप्यूटर की दुकान से भी प्राप्त कर सकते है।

MS Word की बुनियादी संरचना

ms word in hindi overview computersikhe.in

MS Word की बुनियादी संरचना में निचे दी गई ५ जरुरी चीज़े है

  1. 1​मेनू बटन (Menu Button)
  2. 2​क्विक एक्सेस टूलबार (Quick Access Toolbar)
  3. 3मेनू बार (Menu Bar)
  4. 4फंक्शन्स रिबोन (Functions Ribbon)
  5. 5राइटिंग एरिया (Writing Area)

 1. मेनू बटन (Menu Button)

ms word in hindi menu button computersikhe.in

MS Word को खोलने के बाद आपको उपरी बाये हिस्से में एक बड़ी बटन दिखेगी, यह MS Word की सबसे जरुरी बटन है । इसे दबा के आप निचे दिए गए काम कर सकते है।

New” पर क्लिक कर के आप एक नई वर्ड फाइल बना सकते है।

Open” पे क्लिक कर के आप अपने कंप्यूटर में मौजूद किसी भी वर्ड की फाइल को खोल सकते है।

Save” पर क्लिक कर के आप अपनी बनाई फाइल को अपने कंप्यूटर में सेव कर सकते है।

Print” पर क्लिक कर के आप अपनी सेव की हुई या बनाई हुई फाइल को प्रिंटर की सहायता से प्रिंट कर सकते है।

Send” पर क्लिक कर के आप अपनी खुली हुई फाइल को इ-मेल द्वारा किसी और को भेज सकते है।

Close” पर क्लिक कर के आप खुली हुई फाइल को बंद कर सकते है।

Exit Word” पर क्लिक कर के आप MS Word को बंद कर सकते है।

2. क्विक एक्सेस टूलबार (Quick Access Toolbar)

यह MS Word के सबसे ऊपर की टूलबार है (ऊपर दी गई तस्वीर में देख सकते है) जिसमे आप आपको ज्यादातर लगने वाले फंक्शन्स को सहेज सकते है।

आप जिन बटन्स को वहा सेलेक्ट करेंगे वो आप वहा से डायरेक्ट इस्तेमाल कर सकते है।

3. मेनू बार (Menu Bar)

मेनू बार के हर एक आइटम में अलग-अलग फंक्शन रिबोंस होते है।

इसमें से आप अपनी जरुरत के हिसाब से किसी भी आइटम पे क्लिक कर के उससे सम्बंधित फंक्शन्स को इस्तेमाल कर सकते है।

4. फंक्शन्स रिबोन (Functions Ribbon)

यह MS Word का सबसे जरुरी ब्लाक है, इसकी मदत से आप अपने फाइल को जैसे चाहे वैसे डिजाईन और फॉर्मेट कर सकते है।

मेनू बटन के हिसाब से फंक्शन्स रिबोन बदलता है। हमने ऊपर दी गई तस्वीर में जो रिबोन देखा वो ‘Home’ का बुनियादी फंक्शन रिबोन है।

ऐसे ही मेनू बटन के Insert, Page layout, View, इत्यादि आइटम्स के लिए अलग अलग फंक्शन रिबोंस है जिससे आप अलग अलग फंक्शन्स इस्तेमाल कर सकते है।

5. राइटिंग एरिया (Writing Area)

यह भाग MS word का वो भाग है जिसमे हम डॉक्यूमेंट को लिखते और डिजाईन करते है।

इस भाग में हम हैडिंग, सबहैडिंग, पैराग्राफ, इमेज, ग्राफ, इत्यादि का इस्तेमाल कर के एक अच्छा डॉक्यूमेंट लिख सकते है।

यही एरिया हमारा डॉक्यूमेंट होता है, जो शेयर करने के बाद लोगो को दीखता है और प्रिंट करने के बाद पेपर पर छपता है।

MS Word को कैसे इस्तेमाल करे?

इसको इस्तेमाल करना इसके शुरुवाती दिनों में इतना आसान नहीं था पर वक़्त के साथ इसमें काफी बदलाव हुए और यह इस्तेमाल करने में आसान होता गया।

इस सॉफ्टवेयर में इतने फंक्शन्स है के आपको इस पोस्ट में सभी फंक्शन्स के बारे में सिखाना मुमकिन नहीं, इसी लिए हम बुनयादी इस्तेमाल सीखेंगे।

कार्य १: सॉफ्टवेयर को ओपन करना

सबसे पहले आप अपने कंप्यूटर में इस सॉफ्टवेयर को खोले।

अगर यह सॉफ्टवेयर आपके कंप्यूटर में इनस्टॉल है पर दिख नहीं रहा तो आप इसे स्टार्ट में जाके “Microsoft Office Word” के नाम से सर्च कर सकते है।

कार्य २: नई फाइल बनाना

वैसे तो सॉफ्टवेयर को खोलते ही नया डॉक्यूमेंट बन जाता है, पर अगर नया डॉक्यूमेंट न बने तो आप MS Word के मेनू बटन में ‘New’ पे क्लिक कर के नया डॉक्यूमेंट बना सकते है।

कार्य ३: हैडर (Header) टेक्स्ट लिखना

अब ‘राइटिंग एरिया’ में पेज के सबसे ऊपर डबल क्लिक करे जिससे आप अपने डॉक्यूमेंट का हैडर (Header) लिख या एडिट कर सकते है।

कार्य ४: लिखे हुए शब्दों की फॉर्मेटिंग करना

अब आप डॉक्यूमेंट लिखना शुरू कर सकते है, डॉक्यूमेंट में लिखे शब्दों को आप फंक्शन रिबोन की मदत से जैसे चाहे वैसे फॉर्मेट कर सकते है।

पहली ‘फंक्शन रिबोन’ (मेनू बार की ‘Home’) में शब्दों का साइज़ कम ज्यादा करना, उनका फॉण्ट बदलना, शब्दों का संरेखन (Alignment) करना, इत्यादि कार्य किये जा सकते है।

कार्य ५: डॉक्यूमेंट में फोटो, टेबल या क्लिप आर्ट डालना

दूसरी ‘फंक्शन रिबोन’ (मेनू बार की ‘Insert’) में आपको अपनी वर्ड फाइल में अलग-अलग चीज़े समाविष्ट करने के विकल्प दिखेंगे।

इनमे से आप ‘Picture’ पे क्लिक कर के किसी भी फोटो को अपने word फाइल में डाल सकते है।

इसी तरह आप Clip Art पे क्लिक कर के क्लिप आर्ट ऐड कर सकते है और Table पे क्लिक कर के अपनी फाइल में टेबल बना सकते है।

निष्कर्ष: आशा करता हु आप MS Word के बारे में दी हुई जानकारी से संतुष्ट होंगे। अगर आपको लगता है के इस जानकारी में कुछ कमी है तो आप हमें निचे कमेंट कर के जरुर बताये।