कंप्यूटर क्या है? व्याख्या, फुल फॉर्म और बुनियादी (मूल) संरचना

0
43

इस पोस्ट में हम अध्ययन करेंगे कि कंप्यूटर क्या है और साथ में उसकी मूल संरचना के बारे में भी पढ़ेंगे।

कंप्यूटर क्या है?

कंप्यूटर जिसे हिंदी में संगणक भी कहते है एक ऐसा उपकरण (Device) है जो उपयोगकर्ता से इनपुट लेता है, इसे प्रोसेस करता है और आउटपुट तैयार करता है।

यह एक मशीन है जिसे डेटा स्वीकार करने के लिए प्रोग्राम किया जा सकता है। इसमें डेटा को स्टोर करने, पुनः प्राप्त करने और इसे उपयोगी जानकारी में संसाधित करने की क्षमता होती है।

इनपुट से आउटपुट की प्रोसेसिंग सॉफ्टवेयर द्वारा निर्देशित की जाती है और हार्डवेयर द्वारा कार्यरत की जाती है।

ज्यादातर कंप्यूटर का उपयोग दस्तावेज़ लिखने, ईमेल भेजने, गेम चलने, वीडियो देखने, वीडियो संपादित करने और वेब ब्राउज़ करने के लिए किया जाता है।

वैसे तो जो कंप्यूट (गणना) करे उसे कंप्यूटर कहते है पर कुछ लोगो के अनुसार कंप्यूटर का फुल फॉर्म है :

  • Common
  • Operating
  • Machine
  • Purposely
  • Used for
  • Technological and
  • Educational
  • Research

 यह भी पढ़ें:

हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर

कंप्यूटर क्या है? व्याख्या, फुल फॉर्म और बुनियादी (मूल) संरचना

हार्डवेयर:

विभिन्न प्रकार के कंप्यूटरों के बारे में बात करने से पहले, हम दो चीजों के बारे में बात करते हैं जो सभी कंप्यूटरों में समान हैं: हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर।

आपके कंप्यूटर का कोई भी शारीरिक संरचना वाला हिस्सा हार्डवेयर है, जैसे कि कीबोर्ड या माउस इसमें कंप्यूटर के सभी आंतरिक हिस्सों को भी शामिल किया गया है, जिसे आप नीचे दी गई छवि में देख सकते हैं।

सॉफ़्टवेयर:

सॉफ़्टवेयर निर्देशों का एक ऐसा संग्रह है जो बताता है कि हार्डवेयर को क्या और कैसे करना है। सॉफ्टवेयर के उदाहरणों में वेब ब्राउज़र, गेम, और वर्ड प्रोसेसर शामिल हैं। नीचे, आप सॉफ्टवेयर की एक छवि देख सकते हैं, जिसका प्रयोग प्रस्तुतियां बनाने के लिए किया जाता है।

कंप्यूटर की बुनियादी (मूल) संरचना

कंप्यूटर सिस्टम को डेटा हैंडलिंग के चार मुख्य पहलुओं की आवश्यकता होती है।इनपुटप्रोसेसिंगआउटपुट और स्टोरेज जिसे आप निचे दी गयी तस्वीर में देख सकते है।

कंप्यूटर क्या है? व्याख्या, फुल फॉर्म और बुनियादी (मूल) संरचना

इन चार क्षेत्रों के लिए जिम्मेदार हार्डवेयर हैं:

  • इनपुट डिवाइस: ये डाटा को यूजर से ऐसे रूप में लेता है जिसे कंप्यूटर समझ और इस्तेमाल कर सके, और फिर उसे प्रोसेसिंग यूनिट की तरफ भेज देता है।
  • प्रोसेसर: प्रोसेसर जिसे सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (CPU) भी कहते है, उसमे इलेक्ट्रॉनिक सर्किट होते है। यह सर्किट जो डाटा दिया जाता है उस डाटा को सॉफ्टवेयर प्रोग्राम में दिए निर्देशों द्वारा निष्पादित (Process) करता है।
  • आउटपुट डिवाइस: यह लोगों को संसाधित (Processed) डेटा जानकारी एक ऐसे रूप में दिखाता है जिसे वे समझ सकते हैं।
  • स्टोरेज डिवाइस: यह ऐसे डिवाइस होते है जिनमे प्रोसेसिंग के वक़्त और प्रोसेसिंग के बाद का डाटा स्टोर होता है। इनमे टेम्पररी (Volatile) और पर्मनंट (Non-Volatile) ऐसे दो प्रकार होते है। टेम्पररी याने आपके कंप्यूटर की RAM जिसमे प्रोसेसिंग के वक़्त डाटा स्टोर होता है, और पर्मनंट याने आपके कंप्यूटर की हार्ड डिस्क ड्राइव जिसमे पर्मनंट डाटा स्टोर होता है।